ये रिश्ता क्या कहलाता है से नायरा के कठिनाई भरे लम्हें इन सीन्स में

नायरा के सबसे मुश्किल सीन्स ये रिश्ता क्या कहलाता है से

ये रिश्ता क्या कहलाता है सफलतापूर्वक हर कहानी और हर नए ट्विस्ट से अपने प्रिय दर्शकों को प्रसन्न कर रहे है। शिवांगी जोशी जो कि नायरा के किरदार में नज़र आ रही है उन्होंने अपने अभिनय से सबको दीवाना कर दिया है। आज नायरा देश के हर घर मे एक प्रेरणा बन गयी है। नायरा को लोग एक आदर्श बहु और बेटी के रूप में देखते है। नायरा को लोगों का बेहद प्यार मिला है और यह सब मुमकिन हो पाया है उनके दमदार अभिनय के कारण ही।

नायरा की ज़िंदगी बहुत सुलझी हुई नही है। वे अब एक शादीशुदा महिला है और हम सभी जानते है कि शादीशुदा महिला के जीवन मे एक अलग ही चुनौतियां होती है और उसी प्रकार नायरा के जीवन मे भी काफी सारी चुनौतियां आयी जिनका सामना उन्होंने डटकर किया। शिवांगी जोशी उर्फ नायरा के लिए काफी सारे सीन्स बहुत कठिन रहे है जो कि दर्शक शायद ही भूले हो।

यह भी ज़रूर पढिये – देखिए शिवांगी जोशी का टॉप 5 अवॉर्ड विनिंग मोमेंट

नायरा के पति कार्तिक उर्फ मोहसिन खान ने उनका हमेशा ही साथ दिया है। क्या आपको याद है वह समय जब नायरा को अक्षरा की मृत्य का सच पता चला ? यक़ीनन यह कोई नही।

भूल पाया। सच जानने के बाद नायरा की ज़िंदगी मे जैसे कोई तूफान ही आ गया हो। और अगर नायरा उदास और तनाव में है तो कार्तिक कैसे खुश रह सकते है वे भी उनकी उदासी देख टूट गए थे। यह सीन नायरा के जीवन का के कठिन समय था वे बहुत रोई और बिल्कुल ही बिखर चुकी थी।

आप सबको याद ही होगा वह सिन जब नायरा और कार्तिक को पता चल जाता है कि उनकी बेटी ज़िंदा है। और नायरा एक माँ है और उनकी दिल पर क्या बित रही होगी यह शिवांगी जोशी ने बहुत ही अच्छे से अपने अभिनय में दर्शाया है। वे खुशी इस बात की मनाये की वे जान चुकी है उनकी बेटी के बारे में या दुख मनाये की वे अब तक उनसे दूर रही। यह नायरा और कार्तिक के लिए भी काफी कठिन समय था।

जब नायरा कार्तिक से डिवोर्स लेने का मन बनाती है तो उनके यह विचार पर उन्हें सहमति भी मिलती है लेकिन वे अंदर ही अंदर घुटन महसूस करती है यह सीन नायरा के लिए बहुत ही कठिन रहा जहाँ वे सबकी खुशी के लोए अपने प्यार को कुर्बान मरने का मन बना लेती है।

यह भी ज़रूर पढ़िये – देखिए ये रिश्ता क्या कहलाता है जोड़ी नायरा और कार्तिक के खास पल

तो यह सभी पल नायरा की ज़िंदगी में तूफान की तरह थे जिनसे नायरा ने डटकर सामना किया।

Also Read

Latest stories