आई डब्लू एम बज्ज़ ने तारक मेहता का उल्टा चश्मा के डायरेक्टर मलव रजदा के साथ बातचीत की

1

किसी शो को १० साल तक चलाना एक बड़ा कार्य है!! मिलिए मालव राजदा सब टीवी के तारक मेहता का उल्टा चश्मा के कल्ट सिटकॉम के डायरेक्टर। प्रसिद्ध थिएटर डायरेक्टर सुरेश राजदा के बेटे ने शो के पहले दिन से नीला टेलीफिल्म्स प्रोडक्शंस के साथ एसोसिएट किया है।

डायरेक्टर ने कहा,” मेरे विचार से हमारी सादी संबंधित कहानी शो के लिए काम करती हैं बाकी शो के जनरल ड्रामा से काफी अलग है। और कई सालो से वही कास्ट भी मदद करते है इस सफलता के लिए क्योंकि उन्हें पता है हमे क्या चाहिए और हमे पता है उन्हें क्या चाहिए। हमारे सेट पर बहुत अच्छा वातारण है और किसी भी अभिनेता के बीच कोई अहंकार नहीं है बाकी सेट की तरह।”

जब हमने उनसे फिल्म और टीवी की डायरेक्शन की तुलना पूछी तो उन्होंने कहा,” लंबी चलने वालो टीवी राइटर के मुताबिक होती है। और फिल्में डायरेक्टर के मुताबिक चलती है। हमारा सीरियल में काम है कि राइटर की कल्पना को दर्शाना और उसमें कुछ और अपनी तरफ से डालना।”

“एक नकारात्मक पक्ष इस माध्यम का ये है कि समय गहन है; आपको रोज २२ मिनट की कहानी देनी है उससे फर्क नहीं पड़ता है रोज की टेलीकास्ट की देडलाइन क्या है। हाल ही में मेरे साथ दुर्घटना हुई थी। अगर में एक फिल्म डायरेक्टर होता तो शूटिंग आगे कर देते। लेकिन यह मेै देट पर वापस आया मेरे घुटने पर पटिया थी अपने प्रोड्यूसर आसित मोदी के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए।”

आपके लिए रोज काम हो जाना कितना मुश्किल है?” थोड़ा मुश्किल है लेकिन हम उसे संभाल लिए है; बाकी के पास ७ – १० एपिसोड्स होते है और अगले दिन के प्रसारण के लिए कोई शूट नहीं करता है। मैं एक दिन पहले हो अपने आर्टिस्ट्स को स्क्रिप्ट देता हूं ताकि वो अच्छे से अच्छा प्रदर्शन दे सके।

जब हमने उनसे टीवी डायरेक्शन के दो फंडे के बारे पूछा जो पहला है जो शो को पूरा सेट करता है और दूसरा उसे चलने देता है, मालव ने कहा,” आदर्श रूप से सेट अप करने वाले लेखक के साथ मिलकर सब निर्माण करते है किरदार को रूप देते है। और एक बार कहानी और किरदार तयार हो जाए तब फिर उसे चलने देते है।”

“बाकी डायरेक्टर की तरह मैं रफ्तार के लिए गुणवन्ता का त्याग नहीं करता हूं, क्योंकि मैं जानता हूं अगर कुछ ग़लत हुआ तो मेरी ही प्रतिष्ठा खराब होगी क्योंकि आज कल इंटरनेट पर सबकुछ प्राप्त किया जा सकता है।”

दस साल बाद भी मालव अपने काम से बहुत खुश है और कुछ दूसरा नहीं करना चाहता है,” मेरी आसित जी के साथ काफी अच्छी बनती है। जब भी मैं काम पर जाता हू मुझे लगता है मैं अपने प्रोडक्शन हाउस मैं जा रहा हूं।”

तारक ने ना ही उन्हें केवल इतना अच्छा कैरियर दिया है बल्कि उन्हें प्यारी सी बीवी प्रिया आहूजा राजदा जो रीटा रिपोर्टर का किरदार निभाती है वो भी दी है।”मै उनसे सेट पर मिला,हमारी शादी को सात साल हो चुके है। बाकी ने पैसे कमाएं और मुझे मेरा प्यार मिल गया, इससे ज्यादा और क्या चाहिए होगा किसी को।”

अंत में जब हमने उनसे पूछा कि दिशा वाखानी उर्फ दया बेन के प्रेग्नेंसी के ब्रेक के बाद वापस आने की क्या संभावना है, तो उन्होंने कहा,” ये सबकुछ प्रोड्यूसर पर निर्भर है। लेकिन मुझे आसा है कि वो जल्द वापस आएंगी। ये हमारे तरफ से गलत होगा अगर हम उन्हें जल्दी आने के लिए कहे क्योंकि उन्हें अपने बच्चे का ध्यान रखने के लिए समय चाहिए। मातृत्व एक औरत के ज़िंदगी में बहुत महत्वपूर्ण होता है।”

सौभाग्यवश उनके शो से जाने के बाद शो की रेटिंग्स पर कोई असर नहीं पड़ा?”हा शो में २२ किरदार है तो एक महत्वपूर्ण किरदार के ना होने से सभी चीजों को बड़ा नुकसान नहीं होता है।”

शुभकामनाए आपको, मिस्टर डायरेक्टर और आपकी पूरी सफल टीम को!!

1
  • share
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
  • google-plus
  • google-plus
1

Comments

लेटेस्ट स्टोरीज